क्रिकेट पर निबंध 100, 150, 250, 500 शब्दों में | Cricket Essay in Hindi

दोस्तों आज के इस आर्टिकल को पढ़कर आप क्रिकेट पर निबंध आसान शब्दों में लिख पाएंगे। Cricket Essay in Hindi के इस पोस्ट में हमने क्रिकेट पर निबंध 100 शब्द से लेकर 500 शब्द तक दिए हैं जो आपके निबंध लेखन में काम आ सकते हैं।

क्रिकेट एक ऐसा खेल है जो पूरे दुनिया में बहुत ज्यादा लोकप्रिय है। हर उम्र के लोग क्रिकेट खेलना और देखना पसंद करते हैं। मनोरंजन के लिए यह एक बहुत ही बेहतरीन साधन माना जाता है तो वहीं व्यक्ति के स्वास्थ्य को अच्छा रखने में भी क्रिकेट मददगार होता है। शायद यही वजह है कि अब छोटे-छोटे बच्चे भी क्रिकेट के दीवाने हैं। इसीलिए स्कूल जाने वाले बच्चों को सड़कों और गलियों में क्रिकेट खेलते हुए आसानी से देखा जा सकता है।

क्रिकेट की लोकप्रियता का अनुमान इस बात से लगाया जा सकता है कि जब भी हमारे देश भारत में क्रिकेट मैच खेले जाते हैं तो उस समय स्टेडियमों में काफी ज्यादा भीड़ पाई जाती है। अगर आपको क्रिकेट पर निबंध लिखना हो तो इसके लिए हमारे आर्टिकल को पूरा पढ़ें क्योंकि हम आपको क्रिकेट पर निबंध कम शब्दों में और ज्यादा शब्दों में बताने वाले हैं। 

क्रिकेट पर निबंध - cricket essay in hindi

क्रिकेट पर निबंध 100 शब्दों में 

क्रिकेट एक ऐसा खेल है जो की दुनियाभर में अपनी पहचान बना चुका है। आउटडोर खेलों की बात करें तो क्रिकेट सबसे ज्यादा प्रसिद्ध खेलों में से एक माना जाता है। क्रिकेट एक ऐसा खेल है जिसे बड़े मैदानों में खेला जाता है। इसके अलावा क्रिकेट खेलने के लिए पिच की भी जरूरत होती है जहाँ बैटिंग और बॉलिंग की जाती है। 

क्रिकेट खेलने के लिए दो टीमें बनाई जाती हैं और प्रत्येक टीम में 11 खिलाड़ियों की होती है। दोनों टीमों के बीच में मैच जब खेला जाता है तो दोनों का ही यही लक्ष्य होता है कि बेहतरीन प्रदर्शन करके अपनी जीत हासिल करें। दोनों टीमों के खिलाड़ियों के प्रदर्शन के आधार पर ही क्रिकेट की विजेता टीम की घोषणा होती है। 

क्रिकेट पर निबंध 150 शब्दों में 

क्रिकेट एक बहुत ज्यादा पसंद किया जाने वाला आउटडोर स्पोर्ट है जिसको बच्चों के अलावा बड़े लोग भी बहुत शौक से खेलते हैं। बहुत से बच्चों का तो बचपन से ही सचिन तेंदुलकर की तरह एक महान क्रिकेटर बनने का सपना होता है। क्रिकेट को खेलने के लिए बल्ले और गेंद की जरूरत होती है और यह इसे खेलने के लिए 450-500 फीट के एक बड़े मैदान की जरुरत होती है। क्रिकेट खेलने के लिए दो टीमें होनी चाहिए और हर टीम में 11-11 खिलाड़ियों का समूह होता है। 

दोनों टीमों के बीच जब क्रिकेट खेला जाता है तो एक टीम बल्लेबाजी करती है और दूसरी गेंदबाजी। बल्लेबाज टीम की कोशिश होती है कि वह बैटिंग करते टाइम ज्यादा से ज्यादा रन बना सके। तो वही गेंदबाज टीम की यही कोशिश होती है कि बल्लेबाज को जल्द से जल्द आउट कर दें। इस प्रकार से बल्लेबाज टीम उस समय तक बल्लेबाजी करना जारी रखती है जिस समय तक उस टीम के 10 के 10 बल्लेबाज आउट नहीं कर दिए जाते हैं। 

क्रिकेट पर निबंध 250 शब्दों में 

क्रिकेट एक बहुत प्रसिद्ध और पेशेवर खेल है जो भारत में ही नहीं बल्कि दुनिया भर के देशों में खेला जाता है। इस गेम की लोकप्रियता की वजह से ही इसे नेशनल और इंटरनेशनल लेवल पर बहुत ज्यादा लोकप्रियता प्राप्त है। दुनियाभर की टीमों के बीच में जब भी क्रिकेट मुकाबला खेला जाता है तो लोगों की भीड़ से स्टेडियम खचाखच भर जाते हैं। दो टीमों के बीच में खेले जाने वाले इस खेल को पूरे विश्व के लोग बहुत जोश और जज्बे के साथ देखते हैं। 

क्रिकेट के नियम 

वैसे तो क्रिकेट बहुत ही मजेदार और आसानी से खेलने वाला खेल है लेकिन इसको खेलने के लिए कुछ नियम भी हैं जो कि निम्नलिखित हैं – 

  • क्रिकेट खेलने के लिए दोनों टीमों में 11-11 खिलाड़ी होने जरूरी होते हैं। 
  • 3 लकड़ियों की स्टंप की मदद से विकेट को बनाया जाता है।
  • जब गेंदबाज गेंदबाजी करता है तो उस टाइम उसका पैर क्रीज़ के बिल्कुल बीच में होना जरूरी होता है। इसके साथ-साथ उसका अगला पैर पॉपिंग क्रीज के ऊपर होना आवश्यक होता है। अगर गेंदबाज इस रूल को तोड़ता है तो तब उसकी बोल को नो बोल माना जाता है और इसका फायदा बल्लेबाज को मिक्योंक। इस तरह उसे 1 रन फालतू का मिल जाता है। 
  • जब बल्लेबाज बल्लेबाजी करता है तो उस टाइम उसे अपनी सेफ्टी के लिए हेलमेट, पैड और ग्लव्स पहनने होते हैं। 
  • क्रिकेट का मैच शुरू करने से पहले हमेशा दोनों टीमों के कप्तानों के बीच में टॉर्च उछाला जाता है और जो भी कप्तान टॉस जीता है वही यह फैसला करता है कि उसे पहले गेंदबाजी करनी है या फिर उसे पहले बल्लेबाजी करनी हैं। 

क्रिकेट पर निबंध 500 शब्दों में

क्रिकेट एक ऐसा खेल बन चुका है जो सभी के दिलों पर राज करता है। अब बच्चे भी विशेषतौर पर इस खेल में रुचि ले रहे हैं ताकि वह अपने देश के लिए क्रिकेट खेल सकें। ज्यादातर लोगों का फेवरेट खेल क्रिकेट को ही माना जाता है। देखा जाए तो क्रिकेट का इतिहास आज का नहीं है बल्कि इसकी शुरुआत 16 वीं शताब्दी में हो गई थी। इंग्लैंड में शुरू हुआ यह खेल धीरे-धीरे पूरी दुनिया का फेवरेट बन गया। 

क्रिकेट खेलने के लिए खिलाड़ी 

क्रिकेट खेलने के लिए 22 खिलाड़ियों की आवश्यकता होती है जिन्हें दो टीमों में बांट दिया जाता है। इस तरह से हर टीम में 11 खिलाड़ी होते हैं और उनमें से एक टीम का कप्तान होता है। टीम के लिए जो भी सही होता है उसका निर्णय केवल कप्तान ही लेता है और वह अपने सभी खिलाड़ियों का बेहतरीन प्रदर्शन करने में नेतृत्व भी करता है। क्रिकेट को हमेशा किसी बड़ी जगह पर ही खेला जाता है जहां पर तकरीबन 22 गज लंबी पिच बनी हुई होती है। 

क्रिकेट का लोगों पर प्रभाव 

दुनिया भर के लोग क्रिकेट से बहुत ज्यादा प्रभावित होते हैं और उनकी अपनी फेवरेट टीम भी होती है। हर इंसान यह चाहता है कि उसकी पसंदीदा टीम जीते। इसके अलावा ज्यादातर लोगों का कोई ना कोई पसंदीदा खिलाड़ी भी जरूर होता है जिससे वह यह उम्मीद करते हैं कि वह क्रिकेट खेलने के दौरान बेहतरीन प्रदर्शन करे। क्रिकेट प्रेमियों की भीड़ उस समय देखने लायक होती है जब उनकी फेवरेट टीम का किसी दूसरी टीम से मुकाबला होता है। ऐसे में लोग स्टेडियम से जाकर क्रिकेट का आनंद लेते हैं या फिर अपने घरों से टीवी पर मैच का लाइव प्रसारण देखते हैं। 

देखा जाए तो आज की जो युवा पीढ़ी है वह क्रिकेट से बहुत ज्यादा प्रभावित है जिस वजह से उनमें से ज्यादातर लोगों की यही ख्वाहिश है कि वह भी एक क्रिकेटर बनें। हालांकि क्रिकेट हमारे देश भारत का खेल नहीं है लेकिन हमारे देश में क्रिकेट के खेल के चाहने वालों की कमी बिल्कुल भी नहीं है। 

क्रिकेट खेलते समय ध्यान रखने योग्य बातें 

यूं तो क्रिकेट खेलने के लिए बहुत सारे नियम बनाए गए हैं जिन्हें जानना हर क्रिकेटर के लिए बहुत जरूरी होता है। यहां हम आपको कुछ बातें बता रहे हैं जिन्हें क्रिकेट खेलते समय ध्यान रखना जरूरी होता है –

  • क्रिकेट को हमेशा सूखे मैदान पर खेला जाता है क्योंकि गीले मैदान में खेलने पर परेशानी होती है।
  • विपक्षी टीम का बल्लेबाज उस समय तक बल्लेबाजी कर सकता है जब तक उसे गेंदबाज के द्वारा आउट ना कर दिया जाए। 
  • क्रिकेट में एक दूसरे को गाली गलौज करने की या अपशब्द कहने की इजाजत नहीं होती। 
  • अंपायर का जो भी फैसला हो उसका सम्मान किया जाना चाहिए। 

क्रिकेट के प्रकार 

क्रिकेट की बढ़ती हुई लोकप्रियता की वजह से इसके प्रकार निम्नलिखित हैं –

  • अंडर-19 क्रिकेट- इंटरनेशनल क्रिकेट का यह सबसे छोटा प्रारूप होता है जिसमें 19 साल की आयु तक के खिलाड़ी शामिल होते हैं।
  • टी-20 क्रिकेट -क्रिकेट का यह प्रारूप बहुत प्रसिद्ध है और यह 20 ओवर का खेल होता है।
  • आईपीएल क्रिकेट -हमारे देश भारत में खेला जाने वाला यह खेल 20 ओवर का होता है और इसमें इंडियन और इंटरनेशनल खिलाड़ी शामिल होते हैं। 
  • वर्ल्ड कप क्रिकेट -वर्ल्ड कप क्रिकेट में लोगों के बीच काफी पॉपुलर है और इसमें दुनिया भर की टीमों को खेलने का मौका मिलता है और वर्ल्ड कप 50 ओवर का खेल होता है।
  • टेस्ट क्रिकेट- टेस्ट क्रिकेट बहुत धीमी गति से खेला जाता है और यह मैच तकरीबन 5 दिन तक जारी रहता है। 

निष्कर्ष  

क्रिकेट एक बेहद लोकप्रिय खेल है जिसे दुनयाभर के देशों में खेला जाता है। हमारे देश में एक अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट खिलाड़ी को एक बहुत बड़ी हस्ती के रूप में सम्मान की नजरों से देखा जाता है। उनसे प्रेरणा लेकर आजकल बच्चे भी बड़े ही उत्साह से इस खेल को खेलते हैं। खेल के क्षेत्र में भी अच्छा करियर बनाया जा सकता है इसलिए भी आजकल खेल प्रति लोग अधिक जागरूक हुए हैं।

आगे पढ़ें:

दोस्तों यह था हमारा आर्टिकल Cricket Essay in Hindi क्रिकेट पर निबंध। इसमें हमने आपको बताया कि आप अलग अलग शब्दों में किस प्रकार से क्रिकेट पर निबंध लिख सकते हैं। हमें पूरी आशा है कि हमारा यह लेख आपके लिए काफी हेल्पफुल रहा होगा। इसलिए इस लेख को दूसरे लोगों के साथ भी जरूर शेयर करें। 

ऐसे ही काम की रोचक जानकारी और Latest Update के लिए फैक्ट दुनिया की Instagram Page को फॉलो करें

Leave a Reply