आज हम गंदगी मुक्त मेरा गाँव पर निबंध (Essay on Gandagi Mukt Mera Gaon in Hindi) लिखने वाले हैं। इस निबंध का उपयोग स्कूल के विद्यार्थी अपनी परीक्षा, होमवर्क आदि में कर सकते हैं। इसमें हम अपने गाँव के बारे में निबन्ध लिख रहे हैं जहाँ स्वच्छता के विषय पर हम बात करने वाले हैं। इसमें हम बताने वाले हैं की हमारा गाँव किस तरह से स्वच्छ और गन्दगी मुक्त है।

Essay on Gandagi Mukt Mera Gaon in Hindi 250 Words

essay-on-gandagi-mukt-mera-gaon-hindi

मुझे अपना गाँव बहुत अच्छा लगता है क्योकि मेरा गाँव गन्दगी मुक्त है। मेरे गाँव में साफ़-सफाई का विशेष ध्यान रखा जाता है। गाँव की साफ़-सुथरी गलियां हमारे गाँव की शोभा बढ़ाते हैं।

पहले हमारे गाँव में ज्यादा सुविधाएँ नही थीं और लोग भी सफाई के लिए ज्यादा जागरूक नही थे। लेकिन अब समय बदल चुका है अब लोग स्वयं अपने आसपास की सफाई का ध्यान रखते हैं। सरकार की तरफ से चलाये जाने वाले स्वच्छता अभियान ने भी इसमें बड़ी भूमिका निभाई है।

अब हमारे गाँव में सुविधाएँ भी बढ़ चुकी हैं, जल निकासी के लिए गलियों के किनारे नालियाँ बनायीं गयी हैं। नाली बनने से घरों से निकलने वाला पानी गली में नही फैलता है।

पहले मेरे गाँव में शौचालय नही होते थे लेकिन अब हर एक घर में शौचालय निर्माण हो चुका है और लोगों को भी शौचालय का महत्व समझ आ चुका है।

गन्दगी का सबसे बड़ा कारण कचरा है, और मेरे गाँव में कचरा इक्कठा करने के लिए कूड़ेदान बनाये गये हैं। अब कचरा जगह-जगह नही फैलता है। और इस बात का ध्यान भी रखा जाता है की लोग अपने घरों का कचरा केवल कूड़ादान में ही डालें।

गाँव की कच्ची गलियों को भी अब पक्की बना दी गयी है जिससे धूल कम हो गया है साथ ही बरसात के समय कीचड की समस्या नही होती। इससे गलियां साफ़ और स्वच्छ रहती हैं। जगह-जगह पर पेड़-पौधे भी लगाये गये हैं जिससे वातावरण शुद्ध तो होता ही है साथ ही गाँव की सुन्दरता भी बढ़ गयी है।

Essay on Gandagi Mukt Mera Gaon in Hindi 500 Words

प्रस्तावना:

मैं एक छोटे से गाँव में रहता हूँ। गाँव की जनसंख्या कम है लेकिन मेरा गाँव एक आदर्श गाँव है। यहाँ लोग आपस में मिलजुल कर प्यार से रहते हैं। मेरे गाँव में स्वच्छता का बहुत ध्यान रखा जाता है। स्वच्छता अभियान की वजह से मेरे गाँव में बड़ा बदलाव हुआ है। अब लोग साफ़-सफाई के लिए बहुत जागरूक हो गये है। अब गलियां साफ़ और स्वच्छ रहती हैं। लोगों ने अब अपने-अपने घरों में शौचालय बना लिया है।

गाँव में स्वच्छता के उपाय:

बीते कुछ सालों में मेरे गाँव में स्वच्छता को लेकर बड़ा बदलाव हुआ है। मेरा गाँव पहले इतना साफ़-सुथरा नही रहता था लेकिन समय-समय चलाये जाने वाले जागरूकता अभियान और योजनाओं से बहुत फायदा हुआ है।

साफ़-सफाई के लिए गाँव में अलग-अलग प्रकार उपाय अपनाए गये हैं। साथ ही स्वच्छता के लिए कई निर्माणकार्य भी कराये गये हैं। गाँव को स्वच्छ और सुन्दर बनाने के लिए कई सारे कदम उठाये गये हैं जैसे:

  • कूड़ेदान का उपयोग: पहले गलियों में यहाँ-वहाँ कचरा फैला रहता था। इस समस्या से निपटने के लिए कूड़ेदान का उपयोग किया गया। अब गलियों में जगह-जगह कूड़ेदान लगाए गये हैं और लोग अपने घरों से कचरा निकाल कर इन कूड़ेदान में डाल देते हैं।
  • नालियों का निर्माण: किसी भी गाँव के लिए जल निकासी एक बहुत बड़ी समस्या होती है। पहले गाँव की गली में पानी बहता हुआ नजर आता था। लेकिन अब गली के दोनों तरफ नाली बनायीं गयी है जिससे यह समस्या समाप्त हो चुकी है।
  • शौचालय निर्माण: शौचालय व्यवस्था हर गाँव के लिए जरुरी है। पहले लोग खुले में शौच किया करते थे जिससे वातावरण दूषित होता था और बिमारियों का भी खतरा बना रहता था। अब दिशा में बड़ा सुधार हुआ है सरकार की शौचालय योजना की मदद से अब हर घर में शौचालय बना दिया गया है।
  • आवास योजना: सरकार की तरफ से चलाये जाने वाला आवास अभियान से गाँवों में लोगों को बड़ी मदद मिली है। अब लोग कच्चे मकान की जगह पक्के घर बनाने लगे हैं। पक्के मकान से लोगों को सुविधाएँ तो मिली ही हैं साथ में गाँव की सुन्दरता भी बढ़ी है।
  • स्वच्छता अभियान: सिर्फ निर्माणकार्य और सुविधाओं से ही गावों को स्वच्छ नही बनाया जा सकता इसके लिए लोगो को जागरूक करना जरुरी है। जागरूकता के लिए समय-समय पर चलाये जाने वाले अभियानों ने भी इसमें बड़ी भूमिका निभाई है।

निष्कर्ष:

गाँवों में स्वच्छता बहुत ही जरुरी है। मेरे गाँव में हो रहे बदलाव से हम सभी ग्रामवासी बहुत खुश हैं। स्वच्छता से खुशियाँ बढती हैं और इसके लिए हम सभी मिलजुलकर कार्य करते हैं। आज गन्दगी मुक्त मेरा गाँव पर निबंध लिखते हुए मुझे बड़ी ख़ुशी हो रही है। इस निबंध के माध्यम से मैं अपने गाँवों के बारे में लिख पा रहा हूँ और मैं कह सकता हूँ की मेरा गाँव मेरा गौरव है।

आपको गंदगी मुक्त मेरा गांव पर निबंध (Essay on Gandagi Mukt Mera Gaon in Hindi ) कैसा लगा हमें जरुर बताएं। आप इस निबंध का उपयोग परीक्षा या होमवर्क आदि में कर सकते हैं।

Leave a Reply